क्या जानवर सुसाइड कर सकते है ? कुछ घटनाये - Animal Suicide In Hindi



क्या जानवर सुसाइड कर सकते है ?  - Animal Suicide In Hindi


Animal Suicide In Hindi


परिचय क्या जानवर सुसाइड कर सकते है/Animal Suicide


जानवरों की आत्महत्या से तात्पर्य जानवरों की विभिन्न प्रजातियों द्वारा प्रदर्शित किसी भी प्रकार के आत्म-विनाशकारी व्यवहार से है, जिसके परिणामस्वरूप उनकी मृत्यु हो जाती है। हालांकि जीवन की प्राकृतिक प्रगति और अस्तित्व के लिए एक जानवर की विकासवादी प्रवृत्ति का विरोध करते हुए, कुछ स्थितियों में एक जानवर को अपनी मृत्यु का संकेत हो सकता है।


1. डॉलफिन, जिसने की अपने ट्रेनर की बाहों में सुसाइड किया |





Animal Suicide In Hindi


40 साल पहले, डॉलफिन ट्रेनर Richard o'bray ने देखा की कैथी नाम की एक डॉलफिन ने 1960 के एक टीवी शो फ्लिपर में खुद्को मार लिया। डॉल्फिन्स और व्हलेस में एक विशेषता होती है की वो हमारी तरह साँस नहीं लेती है बल्कि उनकी हरके साँस उनका एक सचेत प्रयास होती है। वो जब चाहे अपनी जिन्दगी समाप्त कर सकती है। Richard कहते है उस दिन वो बहुत उदास थी। वो मेरी बाहों में तैर कर आयी, मेरी आँखों में देखा, एक सांस ली फिर दूसरी नहीं ली और वो टैंक में डूब गयी। इस घटना ने Richard o'bray को डॉलफिन ट्रेनर से Animal-rights activist में बदल दिया ।

2. मॉस सुसाइड - जब Turkey में 1500 भेड़े एक पहाड़ी चट्टान से कूद गयी


Animal Suicide In Hindi



2005 में, Turkey में लगभल1500 भेड़े एक पहाड़ी चट्टान से कूद गयी। उनमे से 450 भेड़ो की मोत हो गयी बाकी भेड़ो को बचा लिया गया, क्योकि पहले गिरी भेड़ो ने गद्दे का काम किया।

3. एक कुत्ता जिसने तब तक सुसाइड का प्रयास जारी रखा, जब तक की वो उसमे सफल नहीं हो गया |

Animal Suicide In Hindi


सन 1845 में Illustrated London News ने एक रिपोर्ट दी जिसमे एक Newfoundland प्रजाति के एक काले, सुन्दर डॉग की आत्महत्या का जिक्र था। उस रिपोर्ट के अनुसार उस दिन वो डॉग अवसाद में दिख रहा था, कुछ देर बाद वो पानी में कूद गया और खुद को डुबाने की कोशिश करने लगा . डॉग को बचा लिया गया और बांध दिया गया। लेकिन उसे जैसे ही दुबारा खोल गया वो फिर पानी में कूद गया। ऐसा कई बार हुआ, आखिर में कई प्रयासो के बाद वो पानी में डूब कर मर गया।

4. एक भालू जिसने खाना छोड़कर मोत को गले लगाया

Animal Suicide In Hindi


2012 में China में एक स्वस्थ भालू ने 10 दिनों तक खाना नहीं खाया और मर गया। Animal rights activist का कहना है की पिछले कुछ सालो में china में भालुओ की मोतो के ऐसे कई केस देख चुके है।
भालुओ के Gall blader में एक एञ्जाइम रस पाया जाता है जिसके लिए China में इसे पाला जाता है और छोटे - छोटे पिंजरों में रखा जाता है।

 इस रस की पारम्परिक China दवाइओ में बहुत मांग रहती है। इस रस को निकालने के लिए भालू के पेट में एक स्थायी चीरा लगाया जाता है, फिर एक Cathrter tube डालकर वो रस निकाला जाता है। यह प्रकिया बहुत ही दर्दनाक होती है और आमतोर पर दिन में दो बार की जाती है।



यह भी पढ़िये 


मुझे उम्मीद है आपको यह लेख - क्या जानवर सुसाइड कर सकते है ? कुछ घटनाये - Animal Suicide In Hindi पसंद आएगा | 


Post a Comment

0 Comments