एलोन मस्क की जीवनी - Elon musk biography Hindi | Inspirational Story






एलोन रीव मस्क एफआरएस एक प्रौद्योगिकी उद्यमी, निवेशक और इंजीनियर है। उनके पास दक्षिण अफ्रीकी, कनाडाई और अमेरिकी नागरिकता है और वे स्पेसएक्स के संस्थापक, सीईओ और प्रमुख डिजाइनर हैं; टेस्ला, इंक के सह-संस्थापक, सीईओ और उत्पाद वास्तुकार; न्यूरालिंक के सह-संस्थापक और सीईओ; और पेपाल के सह-संस्थापक। 

जन्म: 28 जून 1971 (उम्र 47 वर्ष), प्रिटोरिया, दक्षिण अफ्रीका
ऊँचाई: 1.88 मीटर
निवल मूल्य: 2,200 करोड़ अमरीकी डालर (2019)
पति / पत्नी: तालुलाह रिले (एम। 2013–2016), तलुल्लाह रिले (मी। 2010–2012), जस्टिन मस्क (एम। 2000–2008)
शिक्षा: पेन्सिलवेनिया विश्वविद्यालय (1997)
बच्चे: Nevada Alexander Musk, Kai Musk, Xavier Musk, Griffin Musk, Saxon Musk, Damian Musk


एलोन मस्क की जीवनी 

Elon musk biography Hindi
Elon musk biography Hindi


Elon Musk का जन्म 28 जून 1971 को साउथ अफ्रीका के प्रिटोरिया सहर में हुआ था उनके पिताजी एक इंजिनियर और माँ एक मॉडल थी जब एलोन 9 साल के थे तब इनके माता-पिता तलाक लेकर अलग हो गये और एलन अपने पिता के साथ प्रिटोरिया में रहने लगे उनके 2 छोटे भाई बहिन भी थे |

जिनपर उनके पिता बिलकुल भी ध्यान नहीं देते थे  एलोन बचपन से ही शर्मीले और किताबो में घुसे रहने वाले लड़के थे और 10 साल की आयु तक उन्होंने ऐसी किताबे पढ़ ली थी जो कॉलेज स्टूडेंट भी नहीं पढ़ते थे और 12 साल की उम्र में एलोन ने अपने घर पर ही रखे कंप्यूटर पर कुछ बुक्स की मदद से कंप्यूटर प्रोग्रामिंग सीखकर लास्ट R गेम ड़ेवेलोप कर लिया      बेसिक लैंग्वेज में बने इस विडियो गेम को ड़ेवेलोप कर लिया और उन्होंने इस गेम को 500 डॉलर में एक कंपनी को बेच दिया उन्होंने अपने स्कूल की फीस इन्ही पैसो से भरी स्कूल में फीस तो भर दी लेकिन स्कूल में कुछ बदमास बच्चे उनसे मार पिट करते थे एक बार उन बदमास बचू ने मिलकर एलोन को इतना मार की वो बेहोश हो गए  


और इसके बाद उन्होंने एलोन को सीढियों से निचे फेक दिया उन्हें होस्पिटल में एडमिट करवाया गया और काफी दिनों बाद उनकी यादास्त आई इस घटना के बाद एलोन को आज भी सांस लेने में तकलीफ होती है जैसे-तैसे 17 साल की उम्र में साउथ अफ्रीका से ओने हाई स्कूल की पढाई पूरी कर ली  इसके बाद वो अपनी माँ के पास कनाडा रहने चले गए और वही की नागरिकता मिल गयी यहाँ पर उन्हें पेंसिल्वेलिया यूनिवर्सिटी से बेचलर डिग्री फिजिक्स में और वार्डन स्कूल ऑफ़ बिज़नस से इकोनॉमिक्स में डिग्री हासिल की पैसो की कमी पूरी करने के लिए कनाडा में एलोन ने कई छोटी- मोटी नौकरिया की |    


यह तक की उन्होंने नाली साफ करने की नौकरी भी की और इसके बाद 1995 में फिजिक्स में पीएचडी करने के लिया वो CANADA से USA शिफ्ट हो गए और स्टेनफोर्ड यूनिवर्सिटी में दाखिला ले लिया लेकिन्याहा आते ही उन्हें इन्टरनेट बूम का अंदाजा हो गया और 2 दिन में ही पीएचडी से ड्रॉपआउट ले लिया और अपना सारा ध्यान इन्टरनेट में लगाया 1995 में ही एलोन मस्क और उनके भाई किम्बें मस्क अपने पिता से मिली पेट्र्क सम्पति से एक online सॉफ्टवेर कंपनी ज़िप२ का निर्माण किया  जो online न्यूज़ पेपर इंडस्ट्रीज के लिए सिटी गाइड का काम करती थी ज़िप२ को एलोन और उनके भाई ने मशहूर पर्सनल कंप्यूटर कंपनी  कॉम्पैक को 307 मिलियन डॉलर में बेच दिया एलोन मस्क को इसका 7 प्रतिशत यानि लगभग 22 मिलियन डॉलर मिले दोस्तों 22 मिलियन डॉलर कम नही होते लेकिन एलोन मस्क के दिमाग में कुछ और ही चल रहा था  उन्होंने इन पैसो से x.com वेबसाइट बनायीं जिसका नाम बदलकर paypal कर दिया जुलाई 2002 में eBay.com ने 1.5 बिलियन डॉलर में ख़रीदा जिसमे से 165 मिलियन डॉलर एलोन मस्क को मिले लेकिन इतने से भी वो संतुष्ट नहीं हुए उन्होंने Payment इंडस्ट्री में तो फाइनेंसियल बदलाव ला दिया था लेकिन वो अब हुमिनटी को धरती से बहार बसाना चाहते थे और एक बदलाव लाना चाहते थे|


Elon musk biography Hindi
Elon musk biography Hindi




उन्होंने अपने विसुअल्ली माइंड में कुछ ऐसा सोच रखा था की अक्सर लोग सुनकर ये कहते थे की ये इंसान पागल हो गया है उन्होंने अपना सारा पैसा वेरियस कंपनी में लगा दिया और लोस अन्जेल्स में जाकर अपने दोस्तों के यहाँ किराये पर रहने लगे 2002 में Return में जो पैसा आया उस से उन्होंने एक कंपनी spaceX बनायी जो की एक प्राइवेट कंपनी थी जिसका इनिशियल गोल मंगल गृह पर इंसान को बसांना था उने Space साइंस और एरोनॉटिक्स की कोई डिग्री नहीं ली थी लेकिन उन्होंने एरोनॉटिक्स की किताबे घर पर ही पढ़कर इतना नॉलेज इकठा कर लिया था की उन्होंने खुद की प्राइवेट एजेंसी spaceX बना दी इतने बड़े प्रोजेक्ट पर बहुत से पैसो की और टेक्नोलॉजी की जरुरत थी| 


 इसलिए उन्होंने Satellite को पृथ्वी की ऑर्बिट में भेजकर पैसे कमाने का प्लान बनाया लेकिन इसके लिए उनके पास रॉकेट्स बनाने की technic नहीं थी रॉकेट्स खरीदने के लिए वो रूस गये जहा उन्होंने देखा रॉकेट्स की प्राइस बहुत ज्यादा है जिस से settelite ऑर्बिट में पहुचाना बहुत ही महंगा था उन्होंने खुद का राकेट USA में बनाने का बोल्ड step लिए जो अब तक किसिस भी प्राइवेट कंपनी ने नहीं लिया था|  



उन्होंने खुद की टेक्नोलॉजी से खुद के राकेट बनाए और अपने राकेट को space में भेजने की तेयारी की एक के बाद एक लगातार 3 बार रॉकेट्स space तक नहीं पहुच पाए और क्रेश हो गए इन तीनो failed attempts ने एलोन को फैनेंसिअली कंगाली की कगार पर लाकर खड़ा कर दिया ऐसे में वो अपने छोटे प्रयास में जूट गए |     

जिसके कारन उन्हें कई लोगो ने उन्हें पागल संनकी तक कहा लेकिन इस जीनियस ने अपनी साडी गलतियों में सुधार करते हुए अपनी नाकामयाबी को कामयाबी में तब्दील कर लिया उनकी कामयाबी से space इंडस्ट्रीज में खलबली मच गयी की कैसे एक आदमी जिसने कभी कोई राकेट साइंस की पढाई नहीं की वो space में Satellite लांच करने लगा है  spaceX कंपनी अब एक space ट्रांसपोर्ट बन चुकी है जो कम खर्च पर नासा Space एजेंसी के उपकरण कार्गो और Satellite ऑर्बिट तक पहुचाती है 
space x ने इसरो से ज्यादा महारत हाशिल कर ली है space x के राकेट reuseable टेकनिक पर आधारित है      


जिस से वो दुबारा एक के बाद एक पुरे मिशन कर सकते है जो की इसरो समेत कई बड़ी एजेंसीज के लिए एक चुनोती है केवल इतना ही नहीं एलोन एक ऐसा Satellite space में  छोड़ना चाहते है जिस से पूरी धरती पर किसी भी जगह बिना नेटवर्क प्रॉब्लम के तेज़ इन्टरनेट लोग चला पाए ये क्कुह कुछ वैसा ही है  निकोला टेस्ला ने वायर लेस बिजली के बारे में सोचा था इसके बाद एलोन कभी पीछे नहीं मुड़े थे एलोन 2004 में टेसला मोटर्स कंपनी में अपना इन्वेस्ट लगाया था जो टेसला कोयल पर आधारित इलेक्ट्रॉनिक कार बना रही थी |
      
Elon musk biography Hindi
Elon musk biography Hindi


अपने विज़न और हुनर से टेसला के सीईओ बन गए टेसला मोटर्स का फ्यूचर बहुत ब्राइट है क्योकि एलोन ने पहले ही भाप लिया था की आने वाला समय इलेक्ट्रॉनिक्स कार का है  लेकिन एलोन इसके बाद भी नहीं रुके उन्होंने एक और कंपनी की नीव रख दी सोल्लर सिटी जो usa की दूसरी सबसे बड़ी सोल्लर कंपनी है इसके बाद उन्होंने एक प्रोजेक्ट की शुरुआत की हाइपर लूप यह एक पब्लिक ट्रांसपोर्टेशन प्रोजेक्ट है  जिसमे लोग बैठकर 1 हज़ार किलोमीटर से ज्यादा की गति से ग्राउंड लेवल पर सफ़र कर पाएंगे यह वेक्यूम और मेग्नेटिक अनर्जी पर बना अपनी तरह का पहला प्रोजेक्ट है जो अभी ट्रायल अवधि पर है जो पूरा होने पर ग्राउंड लेवल पर दुनिया का सबसे तेज ट्रांसपोर्ट सिस्टम बन जायेगा जो बुलेट ट्रेन से भी ज्यादा होगा |      


एलोन मस्क की जीवनी Elon musk biography Hindi


एलोन ने 2014 में निकोलस टेस्ला के भतीजे को विल्लियम टर्बो को टेस्ला साइंस कंस्ट्रक्शन के लिए 1 मिलियन डॉलर दिए एलोन मस्क को स्क्वायर मैगजीन ने 21वी सताब्दी के टॉप 75 प्रभावशाली लोगो में शामिल किया और 2013 फार्च्यून मैगजीन ने बिज़नस पर्सन ऑफ़ दा इयर से सम्मानित किया है |





More Founders Biography In Hindi
I Hope You Like The एलोन मस्क की जीवनी - 
Elon musk biography | Inspirational Story
Stay Connected With StoryBookHindi
Daily Updates.



Post a Comment

0 Comments